12th Science के बाद क्या करे ? पूरी जानकारी

0

12th Science के बाद क्या करे ? दोस्तों अगर आप भी एक साइंस स्टूडेंट है तो आपके दिमाग में भी बहुत बार यह सवाल आया होगा की 12th के बाद आगे क्या करना है वैसे मैं पहले भी इससे जुड़े पोस्ट कर चूका हूँ लेकिन मैंने सोचा इस बार एक पोस्ट लिखा जाये जिसमे सिर्फ मैं ऐसे आप्शन बताऊंगा जिसके स्कोप काफ़ी अच्छे हो और साइंस स्टूडेंट के लिए बढ़िया साबित हो. इसी बात को ध्यान में रखकर मैं यह पोस्ट लिख रहा हूँ उम्मीद करता हु आपको पसंद आएगा.

12th science ke baad

दोस्तों इस पोस्ट में आपको 12th Science के बाद क्या करना है बताया जयेगा क्यूंकि अभी बच्चो के रिजल्ट निकले है और सभी हमसे कमेंट करके यही पूछ रहे है की आगे क्या करे तो मैंने इस पोस्ट को लिखने का निर्णय लिया वैसे अगर आपको याद हो तो मैंने एक पोस्ट लिखा था 12th के बाद क्या करे इसमें हमने साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स तीनो की बात की थी लेकिन विस्तारपूर्वक चीजो को मैं बता नहीं पाया था इसलिए मैं यह पोस्ट अलग से लिख रहा हूँ जिसमे हम सिर्फ साइंस की बात करेंगे.

12th Science के बाद क्या करे:

Engineering (B.Tech/B.E.):

इंजिनियर बनने का सपना बहुत से छात्र देखते है और इंजीनियरिंग करने के लिए साइंस स्ट्रीम से होना आवश्यक है. अगर आप भी साइंस के छात्र है तो आप भी 12th के बाद इंजीनियरिंग के फील्ड में जा सकते हो. इंजीनियरिंग करने के लिए आप 12th के बाद बाद B.E. या B.Tech का कोर्स कर सकते हो. बहुत बार लोगो को यह समझ नहीं आता की B.E. और B.Tech में क्या अंतर है तो मैं आपके जानकारी के लिए बताना चाहूँगा की दोनों में ज्यादा अंतर नहीं है फर्क बस इतना है की B.E. में थ्योरी पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है जबकि B.Tech में प्रैक्टिकल चीजो पर ज्यादा ध्यान देते है. दोनों का महत्व एक जैसा है लेकिन किस कॉलेज से आप यह कोर्स करते हो यह ज्यादा महत्व रखता है. इंजीनियरिंग के अंदर बहुत से ब्रांच आते है जैसे की कंप्यूटर, सिविल, इलेक्ट्रिकल, टेक्सटाइल, केमिकल आदि. यह कोर्स चार साल का होता है अगर आप चाहे तो इसके बाद M.E./M.Tech भी कर सकते हो जिसमे दो साल का समय लगता है जो की इंजीनियरिंग में उच्च शिक्षा का प्रमाण है. इंडिया में इंजीनियरिंग के लिए टॉप कॉलेज IITs, NITS, IIITs, IISc, BITS Pilani आदि है.

Doctor (MBBS):

एमबीबीएस डॉक्टर बनने का ख्वाब हर मेडिकल स्टूडेंट रखता है क्यूंकि डॉक्टर को समाज में बहुत सम्मान दिया जाता है और डॉक्टर की अच्छी सैलरी भी होती है यही वजह है की ज्यादातर लोग डॉक्टर बनने का ख्वाब देखते है. एमबीबीएस डॉक्टर बनने में 5.5 साल का समय लग सकता है. आप डॉक्टर बनने के बाद हॉस्पिटल में काम कर सकते हो और चाहे तो अपना क्लिनिक भी खोल सकते हो. अगर आप एमबीबीएस डॉक्टर बनने की पढाई प्राइवेट कॉलेज से करते हो तो इसका खर्चा करीब दस लाख सलाना हो सकता है वही सरकारी कॉलेज में सलाना 50 हज़ार से 2 लाख तक का खर्चा आ सकता है. अगर किसी के पास ज्यादा पैसे नहीं है और डॉक्टर बनना चाहते है तो ऐसे लोग AIIMS में एडमिशन ले सकते हो इसकी फीस बहुत कम होती है लेकिन AIIMS में एडमिशन के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होती है क्यूंकि सीट बहुत कम होती है. 12th पास करने के बाद डॉक्टर बनने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा की तैयरी करनी है जैसे की NEET, AIIMS, JIPMER, AU AIMEE आदि क्यूंकि बिना प्रवेश परीक्षा पास किये आपको किसी कॉलेज में एडमिशन नहीं मिलती वैसे कुछ प्राइवेट कॉलेज मोटी रकम लेकर सीधा दाखिला आपका कॉलेज में कर देती है मैं आपको ऐसे कॉलेज में जाने की कभी सलाह नहीं दूंगा.

National Defence Academy:

आप चाहे तो 12th के बाद NDA एग्जाम दे सकते हो. पहले यह जान लेते है की NDA क्या है ? NDA एक एग्जाम है जो UPSC द्वारा साल में दो बार होता है. अगर आप देश के लिए कुछ करना चाहते है तो आपको भी यह एग्जाम देना चाहिए. वैसे NDA का एग्जाम कॉमर्स स्टूडेंट भी दे सकते है लेकिन उनका चुनाव सिर्फ भारतीय सेना में हो सकता है लेकिन अगर आप साइंस स्टूडेंट है तो आपका चुनाव सेना, नौसेना और वायु सेना किसी में भी हो सकता है. इस छेत्र में करियर बनाना बहुत गर्व की बात है हर कोई आपको सम्मान की नज़र से देखता है क्यूंकि आप देश के हित के लिए लड़ रहे हो. NDA एग्जाम आप 12th के बाद सकते हो एग्जाम पास करने के बाद आपका SSB इंटरव्यू होगा जिसमे दो टेस्ट होते है पहला Psychological aptitude test और दूसरा Intelligence test. यह सब पास करने के बाद ही आपकी ट्रेनिंग शुरू होगी और आपकी भर्ती भारतीय सेना में हो पायेगी. इसमें करियर बनाने का यह फायदा होगा की आपकी वेतन भी अच्छी होगी साथ में अनेक सुविधाएं भी सरकार द्वारा प्राप्त होगी.

Bachelor of Science:

अगर आपको साइंस पढना अच्छा लगता है और आप आगे भी 12th के बाद साइंस को पढना चाहते है तो आप बीएससी कर सकते हो. बीएससी करने से आप साइंस को अच्छी तरह गहराई से समझ सकते हो. बीएससी को आप दो तरह से कर सकते एक BSc honours और दूसरा BSc general. आप लोगो में से बहुत को यह नहीं पता होगा की इन दोनों में क्या फर्क है तो मैं आपको बताना चाहूँगा इसमें ज्यादा फर्क नहीं है बस इतना समझ लीजिये की BSc honours में आप किसी एक साइंस सब्जेक्ट को पढ़ सकते हो जबकि Bsc general में साइंस के सभी सब्जेक्ट को पढाया जाता है. अगर आप साइंस के किसी एक ही सब्जेक्ट में रूचि रखते है तो BSc honours आप कर सकते हो वहीँ दूसरी तरफ़ अगर आप साइंस के सभी सब्जेक्ट को पढना चाहते हो तो BSc general कर सकते हो. बीएससी में दाखिला लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा देना पड़ सकता है वैसे कुछ कॉलेज में 12th परसेंटेज के हिसाब से भी दाखिला दिया जाता है और यह परसेंटेज कितनी होनी चाहिए यह आपके कॉलेज पर निर्भर करता है.

Bachelor of Architecture:

अब हम बात करेंगे आर्किटेक्चर की जिसे हम हिंदी में वास्तुकार नाम से जानते है. अगर आपको वास्तुकला पसंद है तो आप आर्किटेक्चर कर सकते है जिसे पूरा करने में पांच साल जितना समय लगता है. अगर हम इस कोर्स की फीस की बात करे तो सरकारी कॉलेज में इसकी फीस 1.5 लाख से 2.5 लाख तक है वही प्राइवेट कॉलेज में इसकी फीस 2.5 लाख से लेकर 5 लाख तक के बीच है. इस कोर्स को करने के लिए आपके 12th परसेंटेज कम से कम 50% होने चाहिए और आपके पास मैथ सब्जेक्ट भी होनी चाहिए तभी आप इस कोर्स को कर सकते है. इस कोर्स में आपको बिल्डिंग को डिजाईन करना और कंस्ट्रक्शन करना सिखाया जाता है.

Final Words:

तो दोस्तों आज हमने जाना की 12th Science पास करने के बाद क्या करे उम्मीद है आपको पसंद आया होगा. मैं बस आप सभी से इतना कहना चाहूँगा की आप जो आगे करे सोच समझकर करे हमेशा अपने दिल की सुने किसी के बहकावे में मत आये और बड़ो से सलाह भी ले. मेरे हिसाब से किसी भी फील्ड में करियर बनाया जा सकता है अगर वो काम सच्चे दिल से किया जाये. अगर पोस्ट पढ़कर कुछ नया जानने को मिला हो तो शेयर जरुर करे.