ATM Full Form: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है ?

0

ATM Full Form ? दोस्तों आज हम इस पोस्ट में ATM का Full Form जानेंगे. हम सभी ने एटीएम का नाम कभी न कभी तो जरुर सुना है लेकिन हमें पता नही होता ATM का Full Form क्या होता है इसलिए मैं यह पोस्ट लिख रहा हूँ इस पोस्ट में आप सभी को ATM का Full Form बताया जायेगा. दोस्तों एटीएम का फुल फॉर्म के साथ साथ हम एटीएम के बारे में और भी बहुत कुछ जानेंगे क्यूंकि सिर्फ एटीएम का फुल फॉर्म जानना काफी नहीं होगा. तो दोस्तों चलिए जानते है ATM Full Form क्या है.

atm full form

एटीएम एक ऐसी मशीन है जिसने हम सभी के जिंदगी को आसान कर दिया है. एटीएम होने के वजह से हमारा काफी समय बर्बाद होने से बचा जाता है नहीं तो पैसे निकालने के लिए बैंक जाकर कागज़ी कार्यवाही करनी होती है जिसमे समय की बर्बादी होती है. आजकल 80% लोग पैसे निकालने के लिए एटीएम का ही उपयोग करते है आने वाले समय में एटीएम का इस्तेमाल बाकि लोग भी करेंगे क्यूंकि अभी गाँव के कितने इलाको में एटीएम की सुविधा मोजूद नही है. हमारा देश विकाश की और बढ़ रहा है और जब तक सभी टेक्नोलॉजी हर गाँव तक नही पहुँच जाती तब तक विकाश नही हो सकता इसलिए सरकार पूरी कोशिश कर रही है की एटीएम की सुविधा हर जगह उपलब्ध हो.

एटीएम इस्तेमाल करने के लिए बैंक हमें डेबिट/क्रेडिट कार्ड देती है जिसे एटीएम के अंदर डालना होता है और अपना एटीएम पिन टाइप करना  होता है. इसके बाद आप जितने पैसे अपने अकाउंट से निकालना चाहते है वो आपको एटीएम में टाइप करना होगा और कुछ ही सेकंड में पैसे आपके हाथ में आ जाते है. यह बहुत ही आसान तरीका है पैसे निकालने का सबसे अच्छी बात एटीएम की यह है की इसे 24/7 उपयोग में लाया जा सकता है. वहीं दूसरी तरफ अगर आप बैंक जाते हो पैसे निकलना वहां कागज़ी कार्यवाही करनी होती है जिसमे सिर्फ समय की बर्बादी है ऊपर से बैंक 24/7 नही खुले होते. ऐसे में अगर आप कभी आपातकालीन स्तिथि ने पैसे निकालने जाओ तो बैंक बंद भी मिल सकता है लेकिन एटीएम हमेशा आपके सेवा में खुला मिलेगा. बैंक द्वारा दिए गये एटीएम कार्ड जैसे की डेबिट/क्रेडिट कार्ड जो आप एटीएम के लिए इस्तेमाल करते हो उसे ऑनलाइन शॉपिंग/रिचार्ज के लिए भी इस्तेमाल में लाया जा सकता है. इससे आप बिना दुकान गये भी घर बैठे सब कुछ कर सकते हो यह एक और फायदा हो जाता है एटीएम कार्ड का.

ATM Full Form:

एटीएम का फुल फॉर्म Automated Teller Machine होता है. एटीएम एक तरह का मशीन है जिसकी सुविधा सबसे पहले 1967 लंदन में पाई गयी और इसका इसका अविष्कार John Shepherd-Barron ने किया. एटीएम की मदद से आप बिना बैंक जाये भी पैसे निकल सकते हो. एटीएम भी दो तरह के होते है पहला एटीएम आपको सिर्फ पैसे निकालने और अकाउंट बैलेंस की जानकारी देता है वही दुसरे एटीएम में आप पैसे जमा कर सकते हो, क्रेडिट कार्ड भुगतान कर सकते हो और खाता जानकारी भी प्राप्त कर सकते हो. एटीएम का प्रयोग केवल बैंक ग्राहकों द्वारा पैसो के लेन देन के लिए किया जाता है. उपयोगकर्ता अपने खता को एक विशेष प्रकार के प्लास्टिक कार्ड से एक्सेस कर सकते है.

एटीएम से पैसे निकालने के लिए मुख्यतः दो तरह के कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड. लेकिन डेबिट कार्ड का ज्यादा इस्तेमाल होता है क्रेडिट कार्ड का मुकाबले.

  • एटीएम के सुविधा पुरे 24 घंटे उपलब्ध रहती है ताकि कभी भी तत्काल समय में इसका उपयोग किया जा सके.
  • चाहे गाँव की बात करे या शहर की एटीएम की सेवा आजकल आपको हर जगह मिल जाएगी.
  • एटीएम के इस्तेमाल के लिए पिन की आवश्यकता पड़ती है अगर आपका एटीएम कार्ड भी खो जाये तो कोई पैसे नहीं नीकाल सकता.
  • एटीएम बहुत तेज़ी से काम करता है आप जितने पैसे चाहते हो आपको उतने पैसे उसी समय उसी जगह मिलती है.
  • आजकल सभी बैंक एटीएम की सुविधा अपने ग्राहकों को देती है.
  • आप अपने एटीएम के साथ मोबाइल नंबर रजिस्टर कर सकते हो ताकि हर लेन देन की जानकारी आपको अपने मोबाइल नंबर पर मिलती रहे.
  • एटीएम सुविधा के लिए बैंक अलग से चार्ज करता है.
  • जिस एटीएम का कार्ड है उसी एटीएम में जाये अन्यथा अलग से चार्ज लिया जाता है.
  • पिन डालते समय यह देखले की कोई आप पर नज़र न रख रहा हो और समय समय पर अपना एटीएम पिन भी बदलते रहे.
  • एटीएम कार्ड जैसे की डेबिट/क्रेडिट कार्ड को आप ऑनलाइन शॉपिंग और रिचार्ज के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हो.

एटीएम के आविष्कार का असली श्रेय Luther George Simjian नाम के एक अमेरिकी नागरिक को जाता है. उन्होंने 1939 में ही एटीएम की अवधारणा वाली मशीन तैयार कर ली थी जिसका नाम उन्होंने Bankmatic रखा था. शुरुवात में एटीएम को किसी ने स्वीकार नहीं किया और यह अविष्कार सफल नही हुआ लेकिन बाद में इसमें कुछ बदलाव किये गये जिस वजह से इस आविष्कारक का नाम ज्यादा लोग नही जानते और लोगो को नही पता की एटीएम का असली आईडिया इन्हीं का था.

Final Words:

तो दोस्तों आज हमने इस पोस्ट में ATM Full Form ATM का Full Form क्या है वो जाना. मैंने आप सभी को इस पोस्ट में ATM Full Form के साथ एटीएम के बारे में भी बहुत कुछ बताया जैसे की इसका अविष्कार कब और किसने किया, एटीएम के क्या फायदे है, एटीएम कैसे इस्तेमाल कर सकते है आदि. मेरे हिसाब से एटीएम लोगो की जरुरत बन गयी है और यही कारण है की गाँव वाले इलाको में भी इसे लाने का प्रयत्न किया जा रहा है अगर हम शहरो की बात करे तो शहर में एटीएम आपको हर जगह देखने को मिल जायेगा. अगर आपको हमारा यह पोस्ट ATM Full Form पसंद आया हो तो शेयर जरुर करे.