GST Full Form: जीएसटी का फुल फॉर्म क्या है

0

GST Full Form ? दोस्तों क्या आप जानना चाहते है यह GST का Full Form क्या है तो इस पोस्ट को पढ़ते रहे. अभी आपको हर जगह जीएसटी के बारे में सुनने को मिल जाएगा हर जगह जीएसटी का नाम आप सुन सकते हो लेकिन बहुत लोगो को यह नहीं पता की GST का Full Form क्या है तो मैं यह आपको इस पोस्ट में विस्तार से बताने वाला हूँ की GST Full Form क्या है. दोस्तों आगे बढ़ने से पहले मैं आपको बताना चाहूँगा जीएसटी एक बहुत अच्छी पहल है इससे बहुत से चीजे सस्ते हो जाएंगे और कुछ महंगी भी. अब चलिए जानते है GST Full Form क्या है साथ में जीएसटी से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी.

gst full form

वैसे जीएसटी को इससे पहले 1 अप्रैल 2017 को लागु किया जाना था लेकिन इसे 1 जुलाई से लागु किया जा रहा है. जीएसटी को हमारे पुर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी आज से 17 years पहले भारत में लागु करने वाले थे लेकिन किसी कारण से यह लागु नहीं हो पाई थी.  जीएसटी एक बहुत अच्छा निर्णय है भारत सरकार द्वारा लेकिन मैं आपके जानकारी के लिए बताना चाहूँगा जीएसटी को लगभग 165 देशो ने अपना लिया है. वर्तमान में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष टैक्स से किसी उत्पाद की कीमत उत्पादन से लेकर हमारे हाथों तक पहुंचने में दुगनी या तिगुनी हो जाती है. किसी भी सामान को खरीदते वक्त उस पर हम 30-35 प्रतिशत टैक्स के रूप में चुकाते हैं. कहीं कहीं तो यह 50 प्रतिशत तक है. जीएसटी लागू होने के बाद ये टैक्स घटकर 18 प्रतिशत रह जाएगा.

GST Full Form: जीएसटी का फुल फॉर्म क्या है ?

दोस्तों इस पैराग्राफ के बाद से हम GST Full Form की बात करेंगे साथ में हम जीएसटी की कुछ जरुरी जानकारी भी हासिल करेंगे. मैं सभी सवाल जो जीएसटी से जुड़े आपके मन में है सभी का जवाब इस पोस्ट में देने वाला हूँ तो चलिए जानते है GST Full Form हिंदी में.

जीएसटी फुल फॉर्म क्या है:

दोस्तों जीएसटी का फुल फॉर्म Goods & Services Tax है इसके अंतर्गत सभी सेवा पर एक ही टैक्स चुकाना होगा. आप सभी जानते हो जब भी हम कोई वस्तु मार्किट से खरीदते है उसमे कई तरह के टैक्स हमसे वसूले जाते है आप सभी को जानकर हैरानी होगी की इनकी संख्या 20 के आस पास है. जीएसटी लागु होने के बाद हर वस्तु की कीमत पुरे देश भर में एक जैसी हो जाएगी.आपने भी बहुत बार देखा होगा कुछ वस्तु किसी state में सस्ती है और किसी state में महंगी होती है क्यूंकि उस वस्तु पर कई तरह के टैक्स वसूले जाते है अगर सभी टैक्स जीएसटी के अंतर्गत आ जाएंगे तो सभी का दाम एक समान होगा यानि जीएसटी टैक्स आम आदमी के हित में है. जीएसटी के लागु होने के बाद सभी टैक्स समाप्त हो जाएंगे जैसे की राज्यों को मिलने वाला वैट, मनोरंजन कर, लक्ज़री कर, लॉटरी टैक्स, एंट्री टैक्स, चुंगी आदि भी खत्म हो जाएगी. आपकी जानकारी के लिए मैं बताना चाहूँगा की जीएसटी को अब तक 165 देशो ने अपन लिया है यानि इन देशो में सिर्फ एक ही टैक्स लगाया जाता है लेकिन जीएसटी की दर हर देश में अलग है जैसे की न्यूजीलैंड में 15 प्रतिशत, ऑस्ट्रेलिया में 10 प्रतिशत, फ्रांस में 19.6 प्रतिशत, जर्मनी में 19 प्रतिशत, स्वीडन और डेनमार्क में 25 प्रतिशत और यहां तक कि पाकिस्तान में भी 18 प्रतिशत की दर से जीएसटी लागू है.

जीएसटी से भारत अर्थव्यवस्था पर क्या प्रभाव पड़ेगा:

1) जीएसटी से सभी कर ख़तम हो जाएंगे सिर्फ एक कर ही रह जाएगा वो खुद GST होगा अभी तक आप जो भी वस्तु खरीदते थे उस पर आप 20 अलग अलग टैक्स चुकाते थे लेकिन अब सिर्फ जीएसटी टैक्स ही चुकाना होगा.

2) जीएसटी के लागु होने से केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा लगाए जाने वाले टैक्स से आपको छुट मिलेगी इस तरह से 20 अलग तरह के अप्रत्यक्ष कर नहीं वसूले जायेंगे.

3) कुछ विशेषज्ञों का मानना है की जीएसटी लागु होने से GDP Growth 1-2 फीसदी बढ़ जाएगी.

4) सर्विस टैक्स, सेंट्रल सेल्स टैक्स, स्टेट सेल्स टैक्स और VAT जैसे तमाम टैक्स ख़तम होंगे. जीएसटी आने के बाद टैक्स का ढांचा सरल हो जाएगा और manufacturing sector का पैसा और समय दोनों बचेगा.

5) वर्तमान में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष टैक्स से किसी उत्पाद की कीमत उत्पादन से लेकर हमारे हाथों तक पहुंचने तक दुगनी या तिगुनी हो जाती है. किसी भी सामान खरीदते वक्त उस पर हम 30-35 प्रतिशत टैक्स के  रूप में चुकाते हैं. कहीं कहीं तो यह 50 प्रतिशत तक है. जीएसटी लागू होने के बाद ये टैक्स घटकर 18 प्रतिशत रह जाएगा.

जीएसटी का ढांचा:

जीएसटी में तीन तरह के टैक्स सामिल होंगे तो चलिए उन्हें भी जान लेते है

CGST (Central Goods & Services Tax): इसे केंद्र सरकार वसूलेगी

SGST (State Goods & Services Tax): इसे राज्य सरकार वसूलेगी

IGST (Integrated Goods & Services Tax): यह टैक्स दो राज्यों के बीच होने वाले कारोबार पर लगेगा और इसे दोनों राज्यों में बराबर रूप से बांटा जाएगा

अब चलिए इसे हम एक उदाहरण से समझ लेते है मान लीजिए अगर कोई बिहार का व्यक्ति किसी बिहार के ही व्यक्ति को माल बेचता है और उस वस्तु पर GST दर 18 फीसदी है तो 9 फीसदी CGST और 9 फीसदी SGST लगेगा. यदि माल राज्य के बाहर बेचा जाता है तो 18 फीसदी IGST टैक्स लगेगा.

जीएसटी से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारी:

1) जीएसटी के लागु होने से कुछ वर्षो तक महंगाई वाले दिन देखने पड़ सकते है.

2) Packaged food product पर ज्यादातर राज्यों में कोई ड्यूटी नहीं लगती जहाँ लगती है वहाँ भी इसकी दर 6-7 फीसदी है लेकिन जीएसटी के बाद से इन पर भी 18 फीसदी टैक्स देना होगा.

3) Jewellery पर भी अभी तक 3 फीसदी ड्यूटी और रेडीमेड गारमेंट्स पर 4 से 5 फीसदी state VAT लगता था लेकिन जीएसटी आने के बाद से इन पर भी 18 फीसदी टैक्स लगेगा जिस वजह से jewellery और garments महंगे हो जाएंगे.

4) जीएसटी आने के बाद से discount भी महंगा हो जाएगा क्यूंकि अभी तक discount के बाद बची कीमत पर टैक्स लगता था लेकिन अब MRP पर टैक्स लगेगा.

5) अभी तक मोबाइल बिल पर आपको 15 फीसदी टैक्स चुकाना पड़ता था लेकिन अब यह टैक्स बढ़कर 18 फीसदी हो गया है उदाहरण के लिए अगर आप अपना फ़ोन Rs 100 से recharge करवाते हो तो आपको talktime सिर्फ Rs 82 का मिलेगा जबकि पहले आपको talktime Rs 85 का मिलता था.

6) घर खरीदना सस्ता हो जाएगा क्यूंकि अभी तक हम घर खरीदने पर service tax और VAT दोनों चुकाते थे लेकिन अब सिर्फ जीएसटी के अंतर्गत एक तरह का टैक्स चुकाना होगा.

7) Car और Compact SUVs पर अभी तक 30 से 44 फीसदी टैक्स लगता था लेकिन अब सिर्फ 18 फीसदी लगेगा जिस वजह से कार खरीदना सस्ता हो जाएगा.

8) Restaurant में खाना खाना भी सस्ता हो जाएगा क्यूंकि अभी तक अलग अलग राज्यों में VAT की दर अलग अलग थी ऊपर से आपको service tax भी चुकाना पड़ता था लेकिन अब सिर्फ जीएसटी के अंतर्गत एक तरह का टैक्स चुकाना होगा.

9) एसी, वॉशिंग मशीन, फ्रिज को 28 फीसदी टैक्स दायरे में रखा गया है.अभी इन पर अभी 30-31 फीसदी टैक्स लगता है. एसी और फ्रिज की कीमत कुछ कम होगी.

10) जीएसटी से इकोनॉमी क्लास में विमान यात्रा सस्ती हो जाएगी. इकनॉमी क्लास के लिए एक फीसदी कम 5 फीसदी टैक्स लगेगा लेकिन बिजनेस क्लास में यात्रा महंगी होगी. जीएसटी लागू होने पर बिजनेस क्लास के टिकट पर टैक्स 9 से बढ़कर 12 फीसदी हो जाएगा.

Final Words:

दोस्तों आज हमने जाना की GST Full Form GST का Full Form क्या है वो जाना. साथ में जीएसटी के बारे में बहुत कुछ जाना आप लोगो को यह पोस्ट पढ़कर जरुर कुछ नया सिखने को मिला होगा. इस पोस्ट को लिखते समय मैंने अपनी पूरी कोशिश करी की आपको ज्यादा से ज्यादा जीएसटी से सम्बंधित जानकारी दे पाऊ. अगर आपको हमारा यह पोस्ट GST Full Form पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे.