हेलीकाप्टर का आविष्कार किसने किया?

0

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya? आप सभी जानते हो हेलीकाप्टर दुनिया की कितनी बड़ी खोज है इसलिए आप भी जानना चाहते होंगे की हेलीकाप्टर का आविष्कार किसने किया. हेलीकाप्टर का आविष्कार बहुत पहले हुआ था लेकिन ज्यादातर लोगो को आविष्कारक का नाम पता नहीं होता जिस वजह से वह कम्पटीशन, एग्जाम में पीछे रह जाते है. अगर आप अपने जनरल नॉलेज को बेहतर करना चाहते हो तो आपको पता होना चाहिए की हेलीकाप्टर का आविष्कार किसने किया. तो दोस्तों चलिए इस पोस्ट में विस्तार से जानते है हेलीकाप्टर का आविष्कार किसने किया पूरी जानकारी हिंदी में.

helicopter ka avishkar

क्या कभी किसी ने सोचा था की हम कभी हवा में भी उड़ पाएंगे? आज से 100 साल पहले किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी हवा में भी उड़ा जा सकता है. लेकिन हेलीकाप्टर आविष्कार के बाद हवा में उड़ना मुमकिन हो गया जो मानव जीवन के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है. इस आविष्कार के बाद यात्रा करना बहुत ही तेज़ हो गया जिससे समय काफी बच जाता है. आजकल बहुत से राजनीतिज्ञ, अभिनेता, व्यवसायी तथा जितने भी अमीर लोग है सबके पास अपना हेलीकाप्टर होता है.

आप भी चाहे तो प्राइवेट हेलीकाप्टर खरीद सकते हो लेकिन इसके लिए कम से कम 1 करोड़ या उससे अधिक जितनी रकम की जरुरत पड़ती है. अगर आपके पास इतने पैसे नहीं है लेकिन फिर भी हेलीकाप्टर का लुफ्त उठाना चाहते हो तो बहुत से कंपनी इसकी सुविधा देती है. जिस तरह ऑनलाइन कैब बुक करते है उसी तरह आजकल हेलीकाप्टर भी बुक किया जा सकता है. इसकी सुविधा अभी उबर कंपनी दे रही है लेकिन यह सुविधा अभी न्यू यॉर्क शहर तक ही सिमित है.

हेलीकाप्टर का आविष्कार किसने किया?

हेलीकाप्टर का आविष्कार इगोर सिकोर्स्की द्वारा 1939 में हुआ था. इस हेलीकाप्टर का नाम VS-300 दिया गया था. हेलीकाप्टर बनाने के लिए इगोर सिकोर्स्की ने अपनी खोज 1938 में ही शुरू कर दी थी. VS-300 ने अपनी पहली उड़ान 14 सितंबर 1939 को भरी. VS-300 को आधार बनाते हुए Sikorsky R-4 हेलीकाप्टर तैयार किया गया. इस हेलीकाप्टर में दो व्यक्ति आसानी से बैठ सकते थे. Sikorsky R-4 दुनिया का पहला ऐसा हेलीकाप्टर था जिसे बड़े पैमाने पर बनाया गया . इसके अलावा Sikorsky R-4 ही पहला ऐसा हेलीकाप्टर था जिसे अमेरिका वायु सेना ने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान इस्तेमाल किया. उस दौरान सिकोर्स्की ने अमेरिका वायु सेना के लिए काफी हेलीकाप्टर बनाये जिसमे R-4, R-5, R-6 आदि थे. द्वितीय विश्व युद्ध के अंत तक सिकोर्स्की ने लगभग 400 हेलीकाप्टर अमेरिका वायु सेना की मदद के लिए तैयार किये. इन हेलीकाप्टर को युद्ध के दौरान लोगो की खोज और बचाव करने के लिए प्रयोग में लाया गया.

ऐसा नहीं है की इससे पहले कभी हेलीकाप्टर की चर्चा नहीं हुई या फिर किसी ने हेलीकाप्टर बनाने का प्रयास ही नहीं किया. कुछ विशेषज्ञों के अनुसार आज से करीब 400 ईसा पूर्व हेलीकॉप्टर का अविष्कार हुआ था. लेकिन उस समय हेलीकाप्टर एक खिलौना था जिसे चीनी बच्चों ने बांस से तैयार किया था. खिलोने के रूप में दिखने वाला यह हेलीकाप्टर भी उड़ान भरने में पूरी तरह सक्षम था. इसी खिलौने से प्रेरित हो कर आगे चलकर वैज्ञानिकों के दिमाग में हेलीकाप्टर बनाने का ख्याल आया.

1906 में दो भाई जो फ्रांस के रहने वाले थे Jacques और Louis Breguet ने हेलीकाप्टर के लिए Airfoil पर अपना प्रयोग आरंभ किया. जिसका परिणाम 1907 में Gyroplane No. 1 रूप में आया. हलांकि किसी को ठीक तिथि याद नहीं लेकिन शायद 14 अगस्त या 29 सितंबर 1907 में Gyroplane No. 1 के पायलट ने 2 फीट की ऊंचाई तक एक मिनट के लिए अपनी पहली उड़ान भरी थी. इसकी सबसे बड़ी कमी यह थी की बिलकुल भी संतुलित नहीं था जिसके कारण इसे नियंत्रण करने के लिए लोगो की जरुरत पड़ती थी. लेकिन यह मानव द्वारा बनाया गया पहला हेलीकाप्टर है जिसने पायलट के साथ अपनी पहली उड़ान भरी. उसी वर्ष Paul Cornu नामक एक और आविष्कारक ने भी हेलीकाप्टर तैयार किया जिसका नाम कोर्नु हेलीकाप्टर था. 13 नवंबर 1907 में कोर्नु हेलीकाप्टर ने 1 फीट जितनी उड़ान हवा में 20 सेकंड तक भरी. हालांकि यह हेलीकाप्टर Gyroplane No. 1 का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाई लेकिन इसने बिना किसी मदद के हवा में 20 सेकंड तक खुद को नियंत्रण में रखा.

Final Words:

तो दोस्तों आज हमने इस पोस्ट में जाना की Helicopter Ka Avishkar Kisne Kiya? इस पोस्ट में हमने हेलीकाप्टर का आविष्कार किसने किया इसके अलावा बहुत से दिलचस्प बातों को भी जाना जो शायद ही किसी को पता हो. आजकल हेलीकाप्टर वायु सेना, परिवहन, यात्रा आदि के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है. अगर किसी शहर में बाढ़ भी आ जाये तो हेलीकाप्टर की ही मदद से लोगो का बचाव किया जाता है तथा जरुरी सामग्री उन्हें प्रदान किये जाते है. हेलीकाप्टर मानव जीनव का बहुत ही बड़ा आविष्कार है जिसने बहुत से कार्यों को आसान कर दिया है. अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया हो तो शेयर जरुर करे.

Related Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here