Murgi Palan Kaise Kare ? मुर्गी पालन की जानकारी

0

Murgi Palan Kaise Kare ? अगर कोई मुर्गी पालन का व्यवसाय शुरू करना चाहता है तो इस पोस्ट को जरुर पढ़े. आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की Murgi Palan Kaise Kare मुर्गी पालन की पूरी जानकारी हिंदी में. मुर्गी पालन का बिज़नस कैसे शुरू करना है ? मुर्गी पालन के बिज़नस के लिए क्या चाहिए ? मुर्गी पालन के लिए कितनी धनराशी चाहिए आदि की पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में मिलेगी. अगर कोई कम से कम इन्वेस्टमेंट में ज्यादा मुनाफा चाहता है तो मुर्गी पालन का व्यवसाय किया जा सकता है. तो दोस्तों चलिए जानते है Murgi Palan Kaise Kare पूरी जानकारी हिंदी में.

murgi palan

हम इससे पिछले पोस्ट में डेरी फार्म बिज़नस के बारे में जान चुके है उस पोस्ट में हमने डेरी फार्म कैसे शुरू करना है यह जाना था. आज हम इस पोस्ट मुर्गी पालन कैसे करे इस बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे. मुर्गी पालन के व्यवसाय में काफी अच्छा मुनाफा देखा जाता है क्यूंकि आजकल अंडे की जरुरत हर किसी को होती है. अंडे में प्रोटीन काफी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है और डॉक्टर भी इसे खाने की सलाह देते है. अगर किसी को अच्छी बॉडी बनानी हो तो उनके लिए अंडा काफी बेहतर आप्शन है इसके अलावा अंडे का इस्तेमाल घरेलू नुस्खों में भी किया जाता है. कुल मिलाकर देखा जाये तो अंडे की जरुरत हम सभी को होती है. इसके अलावा बहुत से लोग चिकन खाना भी पसंद करते है और यह भी सेहत के लिए काफी लाभकारी माना जाता है. दुनियाभर की बात करे तो इंडिया तीसरे नंबर पर Egg Production और पांचवां नंबर पर Chicken Production के लिए जाना जाता है. अगर आप खुद पोल्ट्री फार्म का व्यवसाय करते हो तो देश में अंडे और चिकन की जरुरत भी पूरी होती है और यह आपकी कमाई का अच्छा जरिया भी बन जाता है.

  • पोल्ट्री और डेरी फार्म की इस समय हमारे देश को काफी जरुरत है. जितना हमारे देश की पापुलेशन है उस हिसाब से इनका प्रोडक्शन नहीं है इसलिए सरकार भी पोल्ट्री फार्म के लिए 0% ब्याज दर पर लोन दे रही है.
  • मुर्गी पालन से लोगो में बेरोजगारी की समस्या कम होगी.
  • भारत देश में 130 करोड़ से ज्यादा लोग रहते है इसलिए मुर्गी का मांस और अंडे की खपत भी काफी अधिक है.
  • मुर्गी पालन कोई भी व्यक्ति शुरू कर सकता है इसके लिए पढ़ा लिखा होना आवश्यक नहीं है.
  • अगर आप किसान है तो मुर्गी के लिए अनाज की व्यवस्था करना आपके लिए आसान होगा.

Murgi Palan Kaise Kare ? पूरी जानकारी:

मुर्गी पालन की जगह:

मुर्गी पालन व्यवसाय के लिए सबसे जरुरी और सबसे ज्यादा इन्वेस्टमेंट एक जगह का चयन करने में ही लगता है. मुर्गी पालन बिना किसी स्थायी जगह के नहीं हो सकता इसलिए सबसे पहले आपको एक जगह का इंतजाम करना है. कितनी बड़ी जगह होनी चाहिए यह इस बात पर निर्भर करता है की आप कितने मुर्गी पालन करना चाहते है. जगह का साफ़ सुथरा होना बहुत आवश्यक है ताकि मुर्गी को बीमारियों से बचाया जा सके. आप किसी ग्रामीण इलाके के तरफ पोल्ट्री फार्म शुरू कर सकते है क्यूंकि यहाँ कम पैसो में जगह भी मिल जाएगी और काम करने के लिए लोग भी. अपना खुद का फार्म होना ज्यादा बेहतर होगा क्यूंकि किराये के फार्म में आपको कभी भी खाली करने के लिए बोला जा सकता है. इस बात को भी सुनिश्चित कर लेना चाहिए की फार्म में पानी की कोई समस्या न हो. इसके साथ इस बात का भी ध्यान रहे की फार्म के आस पास जंगली जानवर न हो. अगर फार्म के आस पास परिवहन की सुविधा हो और मार्किट भी ज्यादा दूर न हो तो यह व्यवसाय के लिए काफी उत्तम होगा.

मुर्गी की नस्ल:

मुर्गी पालन के लिए आपको उच्च गुणवत्ता के मुर्गी नस्ल की भी जरुरत पड़ेगी. मुर्गी नस्ल काफी प्रकार के होते है और इनका चयन प्रोडक्शन के साथ इस बात पर भी निर्भर करता है की आप किस काम के लिए मुर्गी पालन कर रहे हो. इसलिए अपने जरुरत के हिसाब से मुर्गी नस्ल का चुनाव करे. अगर कोई अंडे के लिए मुर्गी पालन करना चाहता है तो उनके लिए लेयर नस्ल बेहतर होगा. अगर कोई मांस के लिए मुर्गी पालन करना चाहता है ब्रायलर नस्ल का चुनाव करे. इंडिया में 2 तरह के मुर्गी के नस्ल सबसे अधिक पसंद किये जाते है चलिए इनके बारे में जानते है.

  • Layer Breed: अगर कोई अंडे के व्यवसाय के लिए मुर्गी पालन करना चाहता है तो लेयर नस्ल के तरफ जा सकते है. यह मुर्गी 5-6 महीने पुरे होने के बाद अंडे देना शुरू कर देती है और एक साल में 300 अंडे तक दे सकती है. इस मुर्गी को मांस के लिए भी उपयोग में लाया जा सकता है.
  • Broiler Breed: अगर आप मांस के लिए मुर्गी पालन करना चाहते है तो ब्रायलर मुर्गी काफी अच्छा विचार होगा. इस मुर्गी का मांस काफी स्वादिष्ट और मुलायम होता है जिस वजह से इसे काफी पसंद किया जाता है. यह 1.5 से 2 महीने में ही 2 से 2.5 किलो वजन के हो जाते है यह भी एक कारण है इसे मांस के लिए अधिक पसंद किया जाता है.

मुर्गी का आहार:

मुर्गी ज्यादा से ज्यादा तभी अंडा देगी जब उसे अच्छा आहार मिले. इसी तरह से अगर कोई मांस के लिए मुर्गी पालन कर रहे है तो उन्हें भी मुर्गी के आहार का ध्यान रखना चाहिए तभी मुर्गी का स्वास्थ्य बेहतर होगा और वजन भी बढ़ेगा. एक मुर्गी को बिमारियों से मुक्त रखने के लिए जितना उनके वातावरण का ख्याल रखना पड़ता है उतना ही ख्याल हमें उनके आहार का भी रखना होता है. मुर्गी के लिए मार्किट में प्री स्टार्टर, स्टार्टर और फिनिशर मिलता है जो उनके लिए प्रमुख माना जाता है. इसके अलावा आप उन्हें मक्का, सूरजमुखी, तिल, मूंगफली, जौ और गेूंह आदि भी दे सकते हो.

मुर्गियों का रखे ध्यान:

अच्छे ग्रोथ और प्रोडक्शन के लिए मुर्गियों का ध्यान रखना काफी जरुरी है. पोल्ट्री फार्म में साफ़ हवा का आना जाना होना चाहिए ताकि घुटन की समस्या न हो. इसी तरह से इस बात का भी ध्यान रखे की बारिश का पानी फार्म में जमा न हो. मुर्गियों को साफ़ पानी के साथ पौष्टिक आहार ही दे ताकि उनका विकास में कोई समस्या न हो. बीमारियों से दूर रखने के लिए जरुरी टीकाकरण अवश्य करवाए. अगर किसी मुर्गी में इन्फेक्शन पाया गया हो तो उसे बाकि मुर्गियों से अलग कर देना चाहिए.

व्यवसाय की मार्केटिंग करे:

व्यवसाय को सही ढंग से चलाने के लिए मार्केटिंग की भी जरुरत पड़ती है. अगर आप चाहते है लोगो को पता चले आपका मुर्गी का व्यवसाय है और आप इसकी सुविधा देते हो तभी लोग आपके पास आयेंगे और आपका मुनाफा होगा. इसलिए अपने आस पास के दुकानों में पता करे अंडे व मांस कौन बेचता है उनसे कांटेक्ट करे और उन्हें अपने सर्विस के बारे में बताये. अगर दुकान आपके पोल्ट्री फार्म के आस पास होगी तो आपके लिए आसानी होगी नहीं तो आप परिवहन की मदत से एक जगह से दूसरी जगह अपने प्रोडक्ट को ले जा सकते हो.

Final Words:

तो दोस्तों आज हमने इस पोस्ट में जाना की Murgi Palan Kaise Kare मुर्गी पालन की पूरी जानकारी हिंदी में. अगर कोई मुर्गी पालन व्यवसाय करना चाहता है तो उन्हें इस पोस्ट को पढ़ कर जरुर मदद मिलेगी. अगर किसी व्यक्ति के पास रोजगार नहीं है और कम से कम पैसो में व्यवसाय शुरू करना चाहते है तो मुर्गी पालन काफी अच्छा आप्शन है. अगर आपके पास पैसे नहीं है तो 0% ब्याज दर पर सरकार मुर्गी पालन के लिए लोन भी देती है आप इसका भी फायदा उठा सकते हो. सबसे अच्छी बात मुर्गी पालन की यह है की इसके लिए किसी प्रकार की डिग्री या पढ़ा लिखा होना जरुरी नहीं होता. अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया हो तो शेयर जरुर करे.