मोबाइल रूट कैसे करे? आसान तरीका

0

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की Mobile Root Kaise Kare पूरी जानकारी. क्या आप अपने मोबाइल को रूट करना चाहते है तो आपको हमारा ये पोस्ट जरुर पढ़ना चाहिए. इस पोस्ट में हम मोबाइल रूट करने के सबसे बेस्ट तरीके जानेंगे. मोबाइल रूट करना कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन हम में से ज्यादातर लोगो को पता ही नहीं होता मोबाइल रूट कैसे करते है. मोबाइल रूट करने से पहले आपको रूटिंग की पूरी जानकारी होनी चाहिए क्योंकि इसके कुछ फायदे भी होते है और नुकसान भी जिसे हम नज़रंदाज़ नहीं कर सकते. सबसे पहले तो आपको समझना होगा मोबाइल रूट क्या है? मोबाइल के क्या फायदे तथा नुकसान है? मोबाइल रूट कैसे करे और मोबाइल रूट करने के बाद क्या होगा? इन सभी सवालों के जवाब हम आपको आज इस पोस्ट में देने वाले है. अगर आप पहली बार अपने मोबाइल को रूट करने जा रहे है तो उससे पहले हमारे इस पोस्ट को जरुर पढ़े. तो चलिए जानते है मोबाइल रूट कैसे करे पूरी जानकारी हिंदी में.

root kaise kare

अगर आप अपने मोबाइल का पूरा नियंत्रण अपने हाथों में चाहते हो तो इसके लिए आपको अपना मोबाइल रूट करना होगा. क्योंकि रूट ही एक ऐसा तरीका है जिसके बाद आप जैसा चाहो वैसा बदलाव अपने मोबाइल में कर सकते हो. मोबाइल रूट करने के बहुत से तरीके आपको इंटरनेट पर आसानी से मिल जायेंगे लेकिन आज जिस तरीके को हम जानने वाले है वो आप पांच मिनट में बिना कंप्यूटर के कर सकते हो. मोबाइल रूट करने से पहले पोस्ट में बताये बाकि की जानकारी जरुर पढ़े क्योंकि मोबाइल रूट करने के दौरान अगर कोई गलती हो गयी तो मोबाइल भी ख़राब हो सकता है. इसलिए पहले हम मोबाइल रूट की जानकारी हासिल करेंगे उसके बाद मोबाइल रूट करने का तरीका जानेंगे.

मोबाइल को हम कंप्यूटर तथा बिना कंप्यूटर के भी रूट कर सकते है. कुछ मोबाइल को रूट करने के लिए आपको कंप्यूटर की जरुरत होती है तथा कुछ मोबाइल बिना कंप्यूटर के भी रूट किया जा सकता है. इसलिए यह मोबाइल कंपनी और मॉडल नंबर पर निर्भर करता है. बाकि की जानकारी आपको आगे पोस्ट में मिल जाएगी.

मोबाइल रूट क्या है:

मोबाइल रूट करने से पहले यह सवाल आता है की मोबाइल रूट क्या है? अगर आसान शब्दों में कहा जाये तो मोबाइल रूट करने के बाद आप मोबाइल में जैसा चाहो वैसा बदलाव कर सकते हो. उदहारण के लिए आप मोबाइल का स्टॉक थीम बदल सकते हो, सिस्टम एप्लीकेशन डिलीट कर सकते हो, मोबाइल कस्टमाइज कर सकते हो, सिस्टम फाइल्स में बदलाव कर सकते हो आदि जैसे काम मोबाइल रूट करने के बाद किया जा सकता है.

मोबाइल रूट करने के फायदे:

  • Increase Your Phone Speed: आप सभी जानते हो समय के साथ मोबाइल धीरे काम करने लगता है और काफी हैंग भी होता है. इस समस्या को अगर आप किसी साधारण मोबाइल में ठीक करना चाहो तो नहीं कर सकते क्योंकि मोबाइल पूरी तरह से आपके कण्ट्रोल में नहीं रहता. लेकिन किसी रूट मोबाइल में इस समस्या का आसानी से समाधान हो सकता और मोबाइल पहले की तरह तेज़ काम करेगा.
  • Increase Battery Life: बैटरी समय के साथ अपनी बैकअप पॉवर खो देती है और जल्दी हो डिस्चार्ज हो जाती है. जिसके कारण आपको नया बैटरी मोबाइल में लगाना पड़ता है लेकिन कुछ समय बाद वो भी ठीक से काम नही करता. इस समस्या का समाधान भी मोबाइल रूट करने के बाद किया जा सकता है.
  • Run Special Apps: प्ले स्टोर पर बहुत से ऐसे एप्लीकेशन है जो साधारण मोबाइल में काम नहीं करते. इसके लिए मोबाइल का रूट होना जरुरी होता है. इन एप्लीकेशन को चलाने के लिए रूट की परमिशन देनी होती है जो सिर्फ मोबाइल रूट होने के बाद ही दिया जा सकता है.
  • Run Custom Roms: हम लोग मोबाइल का वही पुराना चेहरा, फीचर तथा काम करने के तरीके को देखकर बोर जो जाते है. हम मोबाइल को कोई बढ़िया लुक देना चाहते हो जो पहले से कई गुणा बेहतर हो. अगर किसी के मोबाइल में बहुत दिनों से अपडेट नहीं आया वो भी पुराना वर्जन चलाकर बोर हो जाते है. ऐसे में अगर आपका मोबाइल रूट होगा तो आप कस्टम रोम डाल सकते हो और बिलकुल नया लुक अपने मोबाइल को दे सकते हो.
  • Uninstall System Apps: जब हम कोई नया मोबाइल खरीदते है तो उसमे पहले से कई ऐसे एप्लीकेशन इनस्टॉल होते है जिनकी हमें कोई जरुरत नहीं होती. आप इन एप्लीकेशन को हटा नहीं सकते क्योंकि ये सिस्टम में इनस्टॉल होता है और मोबाइल का स्टोरेज और रैम भी कम करते है. इन एप्लीकेशन को डिलीट करने के लिए मोबाइल रूट होना जरुरी है.

मोबाइल रूट करने के नुकसान:

  • Void Your Warranty: मोबाइल रूट करने की सबसे बड़ी दिक्कत है की आपके मोबाइल की वारंटी उसी समय ख़तम हो जाएगी जिस समय आप मोबाइल रूट कर करते हो. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता की आपने मोबाइल कब ख़रीदा चाहे मोबाइल ख़रीदे 1 हफ्तें क्यों ना हुए हो मोबाइल रूट करने के बाद उसकी वारंटी ख़तम हो जाएगी. इसलिए मेरी यही सलाह होगी की जब तक आपके मोबाइल की वारंटी पूरी ना हो जाये तब तक मोबाइल रूट ना करे.
  • Update Will Not Available: आप सभी जानते हो एंड्राइड हर साल अपना नया वर्जन लांच करता है. जब नया वर्जन मार्किट में आता है तो मोबाइल कम्पनीज भी अपडेट के जरिये पुराने मोबाइल में नए वर्जन को भेजती है. लेकिन अगर आप मोबाइल रूट कर लेते हो उसके बाद आपको अपडेट नहीं मिलती. इसलिए मोबाइल रूट करने से पहले एक बार जरुर सोचे.
  • Your Device May Brick: अगर आप मोबाइल रूटिंग के समय कोई गलती करते हो तो आपका मोबाइल रीस्टार्ट नहीं होगा. ऐसा बहुत बार देखा गया है जो लोग पहली बार मोबाइल रूट करते है उनसे ना चाहते हुए भी कोई गलती हो जाती है जिससे मोबाइल रीस्टार्ट नहीं होता. अब मोबाइल ठीक करने के लिए आपको सर्विस सेण्टर जाना पड़ता है वहा फिर से आपके मोबाइल में सॉफ्टवेयर डालकर ठीक किया जाता है जिसके पैसे देने पड़ते है. अगर इस समस्या से बचना चाहते है तो इस पोस्ट में बताये गये निर्देश का पालन करे.

मोबाइल रूट करने से पहले क्या करे:

  • अपने मोबाइल की बैटरी कम से कम 60% जरुर रखे क्योंकि अगर रूटिंग के दौरान मोबाइल स्विच ऑफ हो जाता है तो रीस्टार्ट नहीं होगी. अगर आपके मोबाइल की बैटरी जल्दी ख़तम हो जाती है तो मेरा सुझाव होगा की मोबाइल बैटरी पूरी चार्ज रखे.
  • रूटिंग से पहले ऐसा कहा जाता है की मोबाइल बैकअप बनाकर रख लेनी चाहिए. क्योंकि रूटिंग के दौरान कोई गलती हुई तो आपके फाइल्स और डाटा का नुकसान नहीं होगा. बैकअप को आप अपने कंप्यूटर में या फिर ऑनलाइन किसी क्लाउड स्टोरेज में सेव कर सकते हो.

एंड्राइड मोबाइल रूट कैसे करे:

मोबाइल रूट आप कंप्यूटर सॉफ्टवेयर तथा मोबाइल एप्लीकेशन से भी कर सकते है. पहले जो मोबाइल मार्किट में आते थे उन्हें आप सीधा किसी भी रूट एप्लीकेशन की मदद से रूट कर सकते थे. लेकिन आजकल जो मोबाइल आते है उमने ऐसा करना आसान नहीं होता. क्योंकि उनका Bootloader लॉक होता है और बिना बूटलोडर अनलॉक किये आप मोबाइल को रूट नहीं कर सकते हो. आजकल ज्यादातर मोबाइल Xiaomi, Realme, Oppo, Samsung, Asus आदि में Bootloader Lock रहता है जिसे Unlock करने के बाद ही मोबाइल को रूट किया जा सकता है.

Bootloader एक तरह का कोड होता है जो आपके मोबाइल को रीस्टार्ट होने में मदद करता है. इसे अनलॉक करने के लिए आपको मोबाइल कंपनी से अनुमति लेनी होती है उसके बाद ही मोबाइल रूट किया जा सकता है. बूटलोडर अनलॉक करने के लिए सभी मोबाइल की अपनी एक अलग प्रक्रिया होती है इसलिए हम आपको इस पोस्ट में नहीं बता सकते. अपने मोबाइल का बूटलोडर कैसे अनलॉक करना है उसके लिए आप मोबाइल मॉडल नंबर लिख कर गूगल पर सर्च करे.

जब आपका बूटलोडर अनलॉक हो जाता है उसके बाद आप मोबाइल रूट कर सकते हो. मोबाइल रूट कैसे करना है यह प्रक्रिया भी सभी मोबाइल में अलग होती है. इसलिए सभी मोबाइल की जानकारी हम आपको एक पोस्ट में नहीं दे सकते. इसलिए नीचे बताये स्टेप्स फॉलो करे और अपने मोबाइल को रूट करना सिख सकते हो.

  • सबसे पहले सेटिंग में जाये और अपने मोबाइल का मॉडल नंबर पता करे. याद रहे सभी मोबाइल का अपना एक मॉडल नंबर होता है.
  • अब कंप्यूटर या मोबाइल की मदद से ब्राउज़र में गूगल सर्च इंजन को ओपन करे.
  • अब गूगल पर सर्च करे की आपका मोबाइल रूट कैसे होगा. इसके लिए कुछ इस तरह से सर्च करे “How to Root XYZ”. आपको XYZ की जगह अपना मॉडल नंबर लिखना है.
  • सर्च रिजल्ट में आपको बहुत से आर्टिकल और वीडियोस मिल जायेंगे जिन्हें फॉलो करने से आप अपना मोबाइल रूट कर सकते हो.

Final Words:

तो दोस्तों आज हमने इस पोस्ट में जाना की Mobile Root Kaise Kare मोबाइल रूट करने का तरीका पूरी जानकारी हिंदी में. इस पोस्ट में बताये गये तरीके से आप किसी भी मोबाइल को रूट कर सकते हो. लेकिन अगर आपने पूरी पोस्ट ना पढ़ते हुए सिर्फ रूट करने का तरीका पढ़ा तो यह बहुत बड़ी गलती हो सकती है. मोबाइल रूट करने से पहले उसके नुकसान और किन चीजों का पालन करना जरुरी है उस पैराग्राफ को अवश्य पढ़े. अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया हो तो शेयर करना ना भूले.

Related Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here